Breaking News

सम्पूर्ण जागरूकता ही असली साक्षरता है न्यायाधीश शुभ्रा सिंह।,अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर हुआ विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन

 

न्यायाधीशगणों की उपस्थिति में शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बड़वाह में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया।

शिक्षा देश की उन्नति का आधार है। एक शिक्षित समाज ही देश व प्रदेश के सुनहरे भविष्य का मार्ग प्रशस्त करेगा, हम पढ़ेंगे, पढ़ाएंगे तथा शिक्षा की ज्योति को घर-घर पहुंचाएंगे। अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के लिए जागरूकता शिविर आयोजित किया गया, जहां तहसील न्यायालय के प्रथम जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश तथा तहसील विधिक अध्यक्ष डॉ श्रीमती शुभ्रा सिंह, न्यायिक मजिस्ट्रेट आरती सिंह व मुकेश कोरी की उपस्थिति में किया गया, शिविर के प्रारंभ में विद्यालय की ओर से उपप्राचार्य निर्मल चौधरी व डी. एस. चौहान सर द्वारा पुष्प माला से पधारे गए न्यायाधीशगणों का स्वागत किया गया। शिविर में कक्षा नौवीं से 12वीं तक की छात्राओं को शिक्षा के महत्व के बारे में बताया गया कि क्यों अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस 8 सितंबर को विश्व साक्षरता दिवस के रूप में मनाया जाता है। न्यायाधीश शुभ्रासिंह द्वारा साक्षरता का अर्थ समझाया गया, साक्षरता शब्द से तात्पर्य है पढ़ने लिखने में सक्षम होना ही नही अपितु समूचे विश्व में हर वर्ग तक शिक्षा पहुंचे यह दिवस मनाने का उद्देश्य है जो राष्ट्र और मानव विकास के लिए देश का हर वर्ग शिक्षित हो, ऐसा जरूरी है उन्हें उनके शिक्षा के अधिकारों के बारे में पता होना जरूरी है। लोगों को शिक्षा के लिए प्रेरित करना, पढ़ाई का उद्देश्य बताना,

देश की साक्षरता दर बढ़ती है तो विकास के कार्यों में सफलता और तेजी से विनती है । इसीलिए संपूर्ण विश्व साक्षरता दिवस को खास तौर पर मनाया जाता है। साक्षरता विषय के बारे में जानकारी देने के उपरांत आजकल के समय में बालिकाओं के प्रति होने वाले अपराध के लिए उन्हें छात्राओं को जागरूक करने के लिए पाक्सो एक्ट से संबंधित एक फिल्म बेड टच व गुड टच प्रोजेक्टर के माध्यम से दिखाई गयी । डॉक्टर शु़भ्रा सिंह द्वारा छात्राओं को बताया गया कि यदि आपके साथ में किसी भी प्रकार की कोई गलत हरकत करें तो सबसे पहले आप अपनी मां को जाकर बताएं या अपने शिक्षक को बताएं। मां से बड़ा कोई मित्र नहीं होता है। उनसे कुछ ना छिपाएं किसी भी प्रकार की यदि कोई परेशानी है तो उसे छुपाने के बजाय उसे बताएं ।तथा चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 पर फोन लगाकर अपनी समस्या बताएं ।आप की समस्या को गोपनीय रखा जाएगा। सभी छात्राओं को हेल्पलाइन नंबर नोट करवाया गया ।शिविर में पैरा लीगल वालंटियर दीपमाला शर्मा व रविंद्र शर्मा ,नाजिर प्रदीप पाराशर ,न्यायालीन कर्मचारी तथा विद्यालय के प्राचार्य श्रीमती हंसा कानूड़े , उप प्राचार्य निर्मल चौधरी, संचालन परेश विजयवर्गीय व आभार डी. एस .
चौहान द्वारा किया गया।

About Live-Editor

Check Also

बड़वाह के राधा डायग्नोस्टिक द्वारा दी गई गलत सोनोग्राफी रिपोर्ट मामले में प्रशासकीय जांच शुरू।

बड़वाह के राधा डायग्नोस्टिक द्वारा दी गई गलत सोनोग्राफी रिपोर्ट मामले में प्रशासकीय जांच शुरू। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *